आज दोपहर देश के सबसे बड़ी DREAM JOB की घोषणा होगी 

– आरक्षण निहाय देश का कोई भी किसी भी उम्र का नागरिक आवेदन कर,तय प्रक्रिया पूरी कर प्राप्त कर सकता हैं 

नागपुर :- ऐसा DREAM JOB देश निहाय 5 साल में एक बार आता है,वह भी सिर्फ 5 साल का कार्यकाल होता हैं और सफल उम्मीदवार को जिंदगी भर आलीशान सुविधाएं दे जाता हैं.इसके सामने UPSC जैसे बड़े बड़े EXAM बौने पड़ जाते हैं.जिसकी आज दोपहर CEC घोषणा करने जा रहे हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस DREAM JOB में कुल 543 पद हैं.इसमें जाति/समाज निहाय आरक्षण हैं.इसके उम्मीदवारों का चयन देश के जागरूक नागरिक करते आ रहे हैं.चयनित उम्मीदवारों अर्थात DREAM JOB के प्राप्त कर्ताओं की घोषणा CEC के प्रतिनिधि करते हैं.

बाद में चयनित उम्मीदवार अर्थात DREAM JOB के सफल उम्मीदवार बहुमत के आधार पर अपना मुखिया अर्थात CEO चुनते,फिर मुखिया व उनके सलाहकार विभिन्न विभागों के HOD का चयन करते हैं.

याद रहे कि इस DREAM JOB के लिए न अनुभव और न शैक्षणिक पात्रता की जरुरत होती हैं.इसके लिए उम्र की सीमा भी नहीं हैं.

DREAM JOB के प्राप्तकर्ता को मासिक वेतन 190000 रूपए,खुद के कार्यालय,कार्यालयीन कामकाज के लिए 2000 रूपए प्रति दिन मिलता हैं.रहने के लिए अमूमन सभी जगह फ्री व्यवस्था,अति अल्प दर में शानदार मनमाफिक भोजन,3 टेलीफ़ोन,25000 यूनिट बिजली,4000 लीटर पानी फ्री।सालाना 34 दफे परिवार के संग विमान यात्रा फ्री,फ्री पेट्रोल,AC ट्रैन में अनगिनत बार फ्री आवाजाही।

सिर्फ 3 से 5 साल की सेवा में 200000 रूपए की मासिक पेंशन आजीवन सह अन्य सुविधाएं।

इनमें से जो विभाग निहाय HOD या मुखिया अर्थात सर्वोच्च पद पर पहुँच गया तो उसका जीवन ही सफल हो गया,भले कुछ माह के लिए क्यों न हो.

उल्लेखनीय यह है कि आज दोपहर CEC 543 पदों के लिए दिशा निर्देश सह आचार संहिता की घोषणा करने जा रही हैं.

इसके बाद इच्छुक महत्वाकांक्षी,अति-महत्वकांक्षी साम-दाम-दंड-भेद का इस्तेमाल कर उक्त पद हथियाने के लिए भीड़ जाएगी।

विडम्बना यह है कि चुनिंदा या गिने चुने ही CEC द्वारा जारी आचार संहिता का पालन कर उक्त DREAM JOB हासिल करते हैं.शेष जिला CEC प्रतिनिधियों के नाक के नीचे आर्थिक धांधलियां कर DREAM JOB पाने की कोशिश करते हैं.इस सम्पूर्ण प्रक्रिया में सबसे ज्यादा बोलबाला मीडिया हाउस,उनके प्रतिनिधि सह जिला प्रतिनिधि सहित सम्बंधित संघठनों के चुनिंदा प्रतिनिधियों का होता है,मौके के बड़े लाभार्थी कहे जाये तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी।

Contact us for news or articles - dineshdamahe86@gmail.com

NewsToday24x7

Next Post

चुनाव आचार संहिता के नाम पर व्यापार और व्यापारियों का नुकसान नहीं होना चाहिए - बी सी भरतीया

Sat Mar 16 , 2024
नागपूर :- लोकतंत्र देश में आम चुनाव होना 5 साल की एक प्रक्रिया है। व्यापार दिन रात बाराओ महीने चलते रहता है। चुनाव में आचार संहिता लगाना अच्छी बात है। उतना ही जरूरी है की व्यापार जिस तरीके से चलता है वह प्रभावित ना हो , चलाता रहे। व्यापार में, शहर के व्यापारी विभिन्न गांव में, देहातों में, आदिवासी इलाकों […]

You May Like

Latest News

The Latest News

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Verified by MonsterInsights