नागपुरवासियों के लिए माझी मेट्रो बनाने में सफल हुए : डॉ. दीक्षित

महाराष्ट्र मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड

(नागपुर मेट्रो रेल परियोजना)

• मेट्रो भवन में मनाया ९वां स्थापना दिन

नागपुर: नागपुर मेट्रो ने कई कीर्तिमान स्थापित करते हुए अनेक अच्छे कार्य किए हैं । इसके अलावा नगरवासियों के चेहरों माझी मेट्रो की खुशी का हमें गर्व है । उक्त उदगार प्रबंध निदेशक डॉ. बृजेश दीक्षित ने व्यक्त किए वे 9वें स्थापना दिवस के अवसर पर मेट्रो भवन में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थितों को संबोधित कर रहे थे । उन्होंने कहा माझी मेट्रो नाम के अनुसार नगर वासियों के यातायात की पहली पसंद हो गई है। हम माझी मेट्रो को नागपुरवासियों के लिए बनाने में सफल हुए है । आज का दिन हमारे प्रति नगर वासियों की आस्था और शुभकामनाओं के कारण अधिक महत्वपूर्ण है ।

उन्होंने कहा की 2015 को देखें तो नागपुर मेट्रो की डीपीआर के अलावा कुछ नहीं था । मेट्रो कैसे बनेगी, कब बनेगी, सफर कैसा होगा, ये सारे मसले हमारे सामने एक चुनौती की तरह थे लेकिन हमने 8 साल की छोटी सी अवधि में इस काम को पूरा करने में सफल रहे । टीम वर्क, कड़ी मेहनत और नागरिकों की शुभकामनाओं के कारण हम इस चुनौतीपूर्ण कार्य को पूरा करने में सक्षम हुए हैं । आज हमें खुशी है कि हम नागपुर में परिवहन के साधनों के साथ-साथ जीवन के तरीके को भी बदलने में सक्षम हैं ।

नागपुर मेट्रो फेज-2 से नागरिकों में और बदलाव आएगा, कामठी-कन्हान, बुटीबोरी, कापसी-ट्रांसपोर्ट नगर, हिंगाना के नागरिकों को मदद मिलेगी । नागरिकों को यह सेवा उपलब्ध होगी । प्रबंध निदेशक ने कहा की महामेट्रो की एक टीम नयी परिवहन प्रणाली मेट्रो नियो के क्षेत्र में परिवर्तन को देख रही है । इस परियोजना को नाशिक के अलावा जिन शहरों की आबादी २० लाख है वहा मेट्रो नियो की परियोजना लागु की जाएगी । केन्द्र सरकार और राज्य सरकार इस नए परिवर्तन को सकारात्मक रूप से देख रही है इस कार्य में भी हम सफल होंगे इसका पूरा विश्वास है ।

नागपुर मेट्रो के स्थापना दिन के निमित्त 2 चर्चा सत्रों का आयोजन किया जिसमें पहला सत्र नागपुर मेट्रो: पब्लिक ट्रांसपोर्ट एंड चेंजिंग वे ऑफ लाइफ था और दूसरा सत्र नागपुर मेट्रो फेज- II था। जिसमें नागपुर शहर के गणमान्यों के अलावा नियमित मेट्रो यात्री, मेट्रो मित्र शामिल थे ।

नागपुर मेट्रो: सार्वजनिक परिवहन और जीवन शैली में बदलाव

1. विलास काले, पूर्व अध्यक्ष – विदर्भ आर्थिक विकास परिषद

2. बी सी भरतिया, राष्ट्रीय अध्यक्ष, कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT)

3. माया जोगे, प्राचार्य, भारत नगर नागपुर म्युनिसिपल स्कूल

4. अमित समर्थ, अंतरराष्ट्रीय साइकिलिस्ट

5. विजय दर्गान, अध्यक्ष क्रेडाई नागपुर

6. विष्णु मनोहर, प्रसिद्ध शेफ

1.  विलास काले: नागपुर मेट्रो ने अनुशासन के साथ निर्माण कार्य पूरा किया। मैंने अपने जीवन में नागपुर शहर को बदलते देखा है और यह मेट्रो के रूप में काफी परिवर्तन हुए है। किफायती , सुविधाजनक और विश्वसनीय परिवहन साधन मेट्रो है। नागपुर मेट्रो ने शहर में कई अभिनव कार्य किए हैं, चाहे वह क्रिकेट मैचों के दौरान की गई व्यवस्था हो या शहर का सौंदर्यीकरण जो उत्कृष्ट है।

2. बी.सी. भरतीया ने कहा: पता ही नहीं चला की कैसे इस परियोजना में 8 साल गुजर गए । डॉ दीक्षित ने शानदार ढंग से कार्य करने की दृष्टी से कार्य किया है। भीड़भाड़ वाले इलाके में बना मेट्रो स्टेशन बेहतरीन आर्किटेक्चर की मिसाल है। मेट्रो ने मास रैपिड ट्रांसपोर्ट सिस्टम के क्षेत्र में परिवर्तन लाया है। साथ ही राजस्व बढ़ाने की दिशा में काम किया है।

3. माया जोगे कहा की: मुझे खुशी है कि मेट्रो के कर्मचारी मेट्रो में भीड़ से परेशान नहीं हैं, बल्कि ख़ुश दिखाई देते है । हर मेट्रो स्टेशन पर कर्मचारी अपने काम के प्रति ईमानदार हैं और यात्रियों की मदद करते हैं। प्रजापति नगर इलाके में मेट्रो सेवा शुरू होने से स्कूल के छात्रों को काफी फायदा हुआ है, यह देखकर मेरे जैसे शिक्षक को बेहद खुशी होती है।

4. अमित समर्थ ने कहा की: यह सुखद अनुभव है कि कोविड के बाद नागरिकों का मेट्रो पर भरोसा बढ़ा है और बड़ी संख्या में नागरिक और युवा मेट्रो का उपयोग करने लगे हैं। मेट्रो ट्रेनों के अंदर साइकिल की अनुमति की शुरुआत एक आश्चर्य की बात थी जो पहले एक यूरोपीय देश में देखी गई थी और मेट्रो ने फर्स्ट और लास्ट माइल कनेक्टिविटी की दिशा में अच्छा काम किया है।

5. विजय दरगन ने कहा की: मेट्रो लाइन के कारण आस-पास बड़ी इमारतें बन रही हैं। हमारे सहयोगी इस क्षेत्र में कार्य रहे है। उन्होंने राय व्यक्त की इससे हमें लाभ हो रहा है। मेट्रो लाइन के पास मकान खरीदने की नागरिकों में प्राथमिकता देखी जा रही है।

6. विष्णु मनोहर ने चर्चा के दौरान कहा की: नागपुर मेट्रो शहर के लिए अनुपम भेट है। हमने मेट्रो की पहली खुदाई से लेकर निर्माण तक के कार्य को बड़ी बारीकी से देखा है। शहर में कुछ साल बाद मेट्रो का निर्माण संभव नहीं होता और इस परियोजना को दूर दृष्टि से तैयार किया गया है।

• नागपुर मेट्रो फेस – 2

1. प्रदीप खंडेलवाल, पूर्व अध्यक्ष, बुटीबोरी मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन

2. टोनी जग्गी, अध्यक्ष, ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन कापसी

3.  विनय चव्हाण, प्राचार्य, पोरवाल कॉलेज, कामठी

4.  प्रतिभा निवंत, प्राचार्य, डिगडोह ग्राम पंचायत स्कूल, हिंगना

5.  योगेश कटारिया, कार्यकारी अध्यक्ष, एमआईडीसी इंडस्ट्रीज एसोसिएशन, हिंगना

6. डॉ उदय वाघे, प्राचार्य, यशवंतराव चव्हाण कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग

7. राजेश लोया, पूर्व अध्यक्ष, नागपुर नागरिक सहकारी बैंक

1. प्रदीप खंडेलवालने कहा की: नागपुर मेट्रो फेज-2 के शुरू होने से बुटीबोरी में सुबह के समय काफी भीड़ होगी, इस दौरान करीब 30 हजार यात्री मेट्रो से सफर करेंगे.

2, टोनी जग्गी ने चर्चा में कहा की: एचबी टाउन से मेट्रो सेवा शुरू होने से नागरिक लाभान्वित हो रहे हैं, अब जब मेट्रो कापसी तक शुरू होगी, तो श्रमिक वर्ग को और भी अधिक लाभ होगा क्योंकि वे हर दिन शहर में काम के लिए आते है । इस क्षेत्र में मेट्रो शुरू होने से सभी नागरिक इसका उपयोग करेंगे क्योंकि इस क्षेत्र में बड़ी संख्या में व्यावसायिक वाहन चलते हैं।

3.  विनय चव्हाण ने कहा: मैं, नागपुर से कामठी तक रोजाना यात्रा करता हूं, कामठी क्षेत्र में मेट्रो सेवा शुरू होने से मेरे जैसे कई लोगों को लाभ होगा। अब ऑटोमोटिव चौक तक मेट्रो सेवा शुरू हो गई है, इसलिए हमारे छात्र साक्षात्कार और कंपनी में नौकरी के लिए कामठी – कन्हान से जाते आते समय अपने वाहनों को ऑटोमोटिव चौक पर पार्क करते हैं और मेट्रो से यात्रा करते हुए गंतव्य स्टेशन तक जाते हैं। खापरी की यात्रा वे मेट्रो से करना पसंद करते हैं।

4.  प्रतिभा निवंत ने कहा की: मेट्रो फेज-2 से निश्चित तौर पर वर्तमान और भावी पीढ़ी को फायदा होगा और हिंगना और वानाडोंगरी के छात्रों को मेट्रो से ज्यादा फायदा होगा।

5. योगेश कटारिया: एमआईडीसी हिंगना के कार्यकारी अध्यक्ष श्री योगेश कटारिया ने भाषण में अपना अनुभव बताया। उन्होंने कहा कि मेट्रो से यात्रा के दौरान उन्हें नागपुर का मनोरम दृश्य देखने को मिला और वह स्मृति उनकी यादों में हमेशा रहेगी।

6. डॉ उदय वाघे ने बताया की: यशवंतराव चव्हाण इंजीनियरिंग कॉलेज में शहर से रोजाना हजारों छात्र आते हैं। मौजूदा कॉलेज से 3 किमी की दूरी पर एक मेट्रो स्टेशन है। छात्रों को दूसरे माध्यम से लोकमान्य नगर मेट्रो स्टेशन जाना पड़ता है लेकिन अगर फेज 2 में मेट्रो शुरू हो जाती है तो छात्रों को आसानी से कॉलेज तक मेट्रो उपलब्ध हो जाएगी ।

7. चार्टर्ड अकाउंटेंट राजेश लोया ने कहा की: मेट्रो के पहले प्रोजेक्ट देखकर नागरिक अपने आप प्रोजेक्ट की सराहना कर रहे है। नागपुर मेट्रो ने बहुत अच्छे से काम पूरा कर शहर को एक नई पहचान दी है और फेज-2 की ओर कदम बढ़ा दिया है।लोया ने कहा कि महा मेट्रो एकमात्र ऐसी संस्था है जो अपना काम आउटसोर्स से करती है और यह एक अनूठी विशेषता है। उन्होंने नागपुर मेट्रो के संपत्ति विकास के तहत महा मेट्रो द्वारा किए गए कार्यों का उल्लेख करते हुए इस संबंध में कुछ सुझाव भी दिए।

NewsToday24x7

Next Post

समाजकार्य महाविद्यालयात छत्रपती शिवाजी महाराज जयंती उत्साहात साजरी

Sun Feb 19 , 2023
संदीप कांबळे, विशेष प्रतिनिधी  कामठी :- येथील समाजकार्य महाविद्यालयात छत्रपती शिवाजी महाराज यांची जयंती मोठ्या उत्साहात साजरी करण्यात आली कार्यक्रमाच्या अध्यक्षस्थानी महाविद्यालयाच्या प्राचार्या डॉ. रुबीना अन्सारी तर प्रमुख उपस्थिती म्हणून रासेयो कार्यक्रम अधिकारी डॉ. राष्ट्रपाल मेश्राम, डॉ. सविता चिवंडे मंचावर  उपस्थित होते. प्राचार्य डॉ. रुबीना अन्सारी यांच्या शुभहस्ते छत्रपती शिवाजी महाराजांच्या प्रतिमेला पुष्पहार अर्पण करून अभिवादन करण्यात आले. यानंतर “जय […]

You May Like

Latest News

The Latest News

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com