75वें गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर सेना ने सैनिकों की विधवाओं और दिव्यांग पूर्व सैनिकों को सम्मानित किया

नागपूर :- 75वें गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर मुख्यालय उत्तर महाराष्ट्र और गुजरात उप क्षेत्र, नागपुर ने पूर्व सैनिकों और आश्रितों की देखभाल की भावना से प्रेरित होकर नौ स्थानों पर सैनिकों की विधवाओं और दिव्यांगजन पूर्व सैनिकों को सम्मानित करने के लिए महाराष्ट्र के भुसावल, नागपुर, पुलगांव, देवलाली तथा गुजरात के गांधीनगर, अहमदाबाद, ध्रांगध्रा, वडोदरा और जामनगर में समारोहों का आयोजन किया।

मेजर जनरल एस के विद्यार्थी, अति विशिष्ट सेवा मेडल, सेना मेडल, जनरल ऑफिसर कमांडिंग की ओर से, सभी नौ स्टेशनों के स्टेशन कमांडरों ने दिव्यांगजन पूर्व सैनिकों के कल्याण की देखभाल के महत्व पर प्रकाश डाला, जिसमें उन सैनिकों की विधवाओं को भी शामिल किया गया जो वित्तीय संकट में हैं और जिन्हें अपनी सीमित पेंशन से जीवन यापन करने में मुश्किल आ रही है।

पिछले दो वर्षों में 48 सैनिकों की विधवाओं और दो दिव्यांगजन पूर्व सैनिकों को सम्मानित किया गया और वित्तीय सहायता दी गई। इसी परंपरा को आगे बढ़ाते हुए 25 और 26 जनवरी 2024 को कुल 26 सैनिकों की विधवाओं और 09 दिव्यांगजन पूर्व सैनिकों को सम्मानित किया गया और 50,000/- रुपये के हिसाब से 17,50,000/- रुपये की वित्तीय सहायता दी गई।

NewsToday24x7

Next Post

विकसित भारतासाठी सर्वांकडून स्वयंशिस्त व नियमांचे पालन आवश्यक - राज्यपाल रमेश बैस

Thu Feb 1 , 2024
– सलग तिसऱ्यांदा पंतप्रधानांचे ध्वज निशाण पटकावल्याबद्दल Your browser does not support HTML5 video. राज्यपालांकडून महाराष्ट्र ‘एनसीसी’ चमूला शाबासकी मुंबई :- विकसित देशांमधील लोकांमध्ये सार्वजनिक जीवनात शिस्त व नागरी कर्तव्याप्रती जागरुकता दिसून येते. त्यामुळे विकसित भारताचे उद्दिष्ट गाठताना, सर्वांनी शिस्त व नियमांचे पालन करणारे जबाबदार नागरिक झाले पाहिजे, असे प्रतिपादन राज्यपाल रमेश बैस यांनी केले. महाराष्ट्र एनसीसीच्या चमूने नवी दिल्ली […]

You May Like

Latest News

The Latest News

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com