गड़बड़ी सामने आते ही लीपापोती शुरू 

– स्थानीय सरपंच के सामने अच्छे खासे 100 मीटर सड़क खोद मामला दबाने की कोशिश 

नागपुर/लोनारा – ग्रामीण इलाकों में विकास अधूरा रहने का मुख्य कारण यही है कि सम्बंधित प्रशासन सह स्थानीय जनप्रतिनिधि विकासक के माध्यम से निम्न दर्जे का काम दबाव में करवाकर अपना उल्लू सीधा कर रहे और स्थानीय नागरिकों को क्षेत्र के विकास से महरूम रख सरकारी राजस्व को चुना लगा रहे.

याद रहे कि https://newstoday24x7.com/2-kilometers-approved-for-22-lakhs-but-only-400-meters-built/ इस प्रकरण के सार्वजानिक होते ही सभी सम्बंधित सकपका गए.सम्बंधित अभियंता ने मामला दबाने के लिए लिए तत्काल लीपापोती का आदेश दिया।

नतीजा स्थानीय जनप्रतिनिधि ने अनाधिकृत लेआउट का 100 मीटर का READYMADE ROAD बिना किसी की अनुमति/गुजारिश के मिनटों में खोद डाली।इस रोड को लेआउट वाले ने निर्माण किया था.अभी तक लेआउट का 7/12 का अतापता नहीं फिर भी सरकारी मशीनरी ने अपनी मनमानी की.

स्थानीय नागरिकों के अनुसार इसलिए खोदा गया क्यूंकि जिस सड़क के निर्माण में गड़बड़ी का संदेह है,उस सड़क से यह सड़क जुडी हुई है ताकि इसे भी लीपापोती में जोड़ कर दिखाया जा सके.

एक अन्य जागरूक नागरिक का कहना है कि सरकारी पैसा निजी लेआउट पर कैसे खर्च की जा रही,क्या लोकनिर्माण विभाग -2 सो रहा हैं या मिलीभगत हैं.

इनका यह भी कहना है कि सिर्फ अच्छे खासे सड़क की खुदाई कर ‘नौ दो ग्यारह’ हो गए.न नए सिरे से गिट्टी,न मुरुम,न ही बोल्डर बिछाया गया.पिछले वर्ष स्थानीय ग्रामपंचायत ने मुरुम बिछाई थी.

उल्लेखनीय यह है कि उक्त गड़बड़ी में आज भी बड़ी गड़बड़ी है,जिसका खुलासा लोकनिर्माण विभाग -2 करने को तैयार नहीं,सिर्फ अपना स्थानीय प्रतिनिधि भेज मामला दबाने के लिए जीतोड़ प्रयास कर रहे हैं.

उक्त मामले को लेकर जल्द ही एमओडीआई फाउंडेशन जिले के पालकमंत्री व उपमुख्यमंत्री से मुलाकात कर सरकारी राजस्व के साथ हुए खिलवाड़ करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेगी,इससे होने वाले नुकसान के जिम्मेदार स्थानीय प्रशासन सह लोकनिर्माण विभाग -2 की होगी।

 

Contact us for news or articles - dineshdamahe86@gmail.com

NewsToday24x7

Next Post

खापरखेड़ा थर्मल पावर स्टेशन से जारी RFx No. 3000034080 टेंडर रद्द करने की मांग 

Mon Jan 23 , 2023
मुंबई :- महानिर्मिती के अध्यक्ष व व्यवस्थापकीय संचालक को लिखे गए पत्र के अनुसार महानिर्मिति आर्थिक संकट में हैं,इसलिए राज्य के सभी विद्युत प्रकल्पों का वार्षिक रखरखाव सह अन्य कार्यो के भुगतान में देरी हो रही हैं.LOI देने के बावजूद काम वापिस लिया जा रहा हैं.दूसरी ओर अतिमहत्वपूर्ण काम न होने के बावजूद 8 करोड़ का ठेका जारी कर खापड़खेड़ा […]

You May Like

Latest News

The Latest News

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com