सियासी संकट के बीच राज्यपाल कोश्यारी हुए कोरोना पॉजिटिव, अस्पताल में भर्ती

मुंबई – एकनाथ शिंदे की बगावत ने महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा भूचाल ला दिया है. जैसा कि शिंदे के 40 से अधिक विधायक होने का दावा है, उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महाविकास अघाड़ी सरकार खतरे में है। इन घटनाक्रमों की पृष्ठभूमि में राजभवन और राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की भूमिका को महत्व  है। हालांकि, जहां राज्य की राजनीति में बड़ी उथल-पुथल के संकेत मिल रहे हैं, वहीं यह बात सामने आई है कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को कोरोना हो गया है.

महाराष्ट्र में जारी राजनीतिक संकट के बीच राज्य के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी अस्पताल में भर्ती कराए गए हैं. मिली जानकारी के अनुसार राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी एचएन रिलायंस हॉस्पिटल में भर्ती हुए हैं. बताया गया कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी, मंगलवार-बुधवार दरम्यानी रात कोरोना संक्रमित पाए गए. देर रात उनकी कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई.

बता दें राज्य में महाराष्ट्र सरकार राजनीतिक संकट से गुजर रही है. महाविकास अघाड़ी के तीन दलों की गठबंधन वाली सरकार में शिवसेना के 35 विधायक बागी हो गए हैं. बागी विधायकों का नेतृत्व एकनाथ शिंदे कर रहे हैं. शिंदे का दावा है कि उनके पास 40 विधायकों का समर्थन है. एकनाथ शिंदे समेत सभी बागी विधायकों की मांग है कि शिवसेना, बीजेपी के साथ मिल कर सरकार बनाए.

सूरत से गुवाहाटी पहुंचने पर एकनाथ शिंदे ने पत्रकारों से कहा कि उन्होंने शिवसेना नहीं छोड़ी है बल्कि वह बाला साहेब ठाकरे के बताए हिन्दुत्व के रास्ते पर चल रहे हैं. दूसरी ओर शिवसेना नेता और सांसद संजय राउत ने दावा किया कि विधायक नितिन देशमुख को बीजेपी ने अपहृत कर लिया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि जब उन्होंने खुद को छुड़ाने की कोशिश की तो उन्हें गुंडों और गुजरात पुलिस ने मारा.

Email Us for News or Artical - [email protected]
WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
error: Content is protected !!