FCIREA की वार्षिक सभा में कोयला उद्योग के पूर्व कर्मियों के दर्जनभर संगठनों ने हिस्सा लिया 

– विभिन्न मांगों पर हुई मंथन,उपस्थितों ने संबंधित मामलों के शीघ्र समाधान के लिए अपने-अपने विचार प्रकट किए.

नागपुर – देश के कोयला खनन उद्योग से जुड़े पूर्व अधिकारी एवं कर्मचारियों की “वार्षिक आम सभा- 2023” 12 फरवरी 2023 को “फेडरेशन ऑफ कोल इंडस्ट्री रिटायर्ड एम्प्लॉईस एसोसिएशन (FCIREA)” के तत्वावधान में लैम्बन्ट आईटी पार्क, हरिहर नगर, बेसा, नागपूर में आयोजित की गई, जिसमें देशभर के कोयला उद्योग के सेवानिवृत्त अधिकारी एवं कर्मचारियों के लगभग 13 एसोसिएशन (सीरोवा) नागपुर, (सीएमईआरए) रांची, (सीपीए) धनबाद,(सीआईएसएनकेएसएस) छिंदवाड़ा, (केकेएसएनकेडब्लूएस) पाथरखेड़ा,(सीआईपीए)बिलासपुर,(आरओएडब्लूडब्लूए)बर्दवान,(सीआईपीएस) हजारीबाग, (एसआरओडब्लूए)हैदराबाद,(सीएमपीए) हैदराबाद, (सीईएफ) कोलकाता, (सीआईपी डब्ल्यूए) कोलकाता, (सीआईआरईए) केरला के सक्रिय प्रतिनिधि गण, कोयला उद्योग के आधिकारिक संघठन (IMMA,CMOAI ) एवं केन्द्रीय श्रम संघटन (INTUC,BMS, CITU & HMS) के प्रतिनिधी शामिल हुए ।

फेडरेशन के उपाध्यक्ष  एस एन कटियार ने सभी प्रतिनिधियों एवं आमंत्रित अतिथि गणों का अभिनंदन करते हुए, संघर्ष के प्रणेता स्वर्गीय जगदीश नारायण सिंह की फ़ोटो पर माल्यार्पण कर,भगवान से कोयला कर्मियों के सुरक्षित स्वस्थ एवं सुखी जीवन के लिए प्रार्थना के साथ फेडरेशन की “वार्षिक आम सभा- 2023” प्रारंभ की।

सभा में अन्य मुद्दों के अलावा, दिल्ली हाई कोर्ट में चल रहे, कोयला कर्मियों की पेंशन से संबंधित प्रकरण क्रमांक डब्ल्यूपीसी 3118/2015 की विस्तृत जानकारी, फेडरेशन के अध्यक्ष आर. बी. उपाध्याय, उपाध्यक्ष एम एल भसीन एवं जे.वी. दत्तात्रेयूलू, द्वारा दी गई।

विधवा पेंशन में हो रहे विलंब एवं बैंकों से भुगतान में आ रही समस्याओं पर एस एल यादव ने अपने विचार रखें। बीते 8 वर्षों से (2015 से 2023 तक) दिल्ली हाई कोर्ट में चल रहे प्रकरण का निराकरण न होने पर एवं विगत 28 वर्षों से पेंशन बढ़ोतरी की दिशा में समुचित कदम न उठाए जाने पर उपस्थित जनसमूह ने सरकार, CMPF एवं कोर्ट की कार्यपद्धती के प्रति अपना खेद एवं आक्रोश व्यक्त किया।

फैमिली पेंशन प्रक्रिया एवं CPRMSE – NE के भुगतान संबंधीत मामलों में हो रहे विलंब की विस्तृत जानकारी उपाध्यक्ष बिमन मित्रा द्वारा दी गई। कोषाध्यक्ष एस के जगनानिया ने वर्ष 31 मार्च 2022 का लेख- जोखा प्रस्तुत किया, जिसे सर्वसम्मति से पारित किया गया ।

उपस्थित अधिकारी एवं कामगार प्रतिनिधियों ( संख्या लगभग 200) ने कोर्ट केस में हो रही देरी पर अपना आक्रोश जताया और कोयला कर्मियों (वर्तमान तथा सेवा निवृत्त) के कल्याण से संबंधित मामलों के शीघ्र समाधान के लिए अपने-अपने विचार रखे।

कोल इंडिया द्वारा सूचीबद्ध अस्पताल में चिकित्सा एवं बिलों के भुगतान में हो रही कठिनाइयों पर जन प्रतिनिधियों ने गहनता से चर्चा की एवं प्रक्रिया को और सरल बनाये जाने के लिए कोयला मंत्रालय, कोल इंडिया एवं सिंगरेनी कोल कम्पनीज लिमिटेड आदि संबंधित जगहों पर चर्चा करने का प्रस्ताव सर्व सम्मति से पारित किया।

बैठक में कोयला पेंशनरों की दयनीय स्थिति व असहनीय पीड़ा के निवारण हेतु देशभर से आए हुए विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधियों के अलावा केन्द्रीय श्रम संघटन के प्रतिनिधी शिव कुमार (अध्यक्ष – HMS ), एच एस बेग (CITU), एस क्यू जामा (RKKMS), एवं आधिकारिक संघठन के सतीश गवाले, (CMOAI ) तथा आर बी उपाध्याय (अध्यक्ष – FCIREA ) ने भी अपने – अपने विचार /सूझाव देकर उपस्थित जन समूह का मार्गदर्शन किया ताकि कोयला कर्मियों को सम्मानजनक पेंशन मिल सके एवं सभी के सहयोग से कोल परिवार में प्रेम, संयम एवं सहकार की भावना जागृत हो सके और कोल कर्मी देश की प्रगति में अपना योगदान दे सकें।ए के बाजपई ( संचालक) ने किया।

 

Contact us for news or articles - dineshdamahe86@gmail.com

NewsToday24x7

Next Post

जी-20 परिषदेसाठी जिल्हा परिषद प्रशासनाची जोरदार तयारी

Tue Feb 14 , 2023
शाळा, महाविद्यालय आणि स्वयंसेवी संस्थांच्या सहभागातून विविध उपक्रम नागपूर : शालेय विद्यार्थ्यांद्वारे अभिरुप जी-20 परिषद, निबंध, वक्तृत्व आदी स्पर्धा मॅरेथॉन, फ्लॅश मॉबच्या माध्यमातून पुढील महिन्यात नागपूर शहरात होऊ घातलेल्या जी-20 परिषदेबाबत जनजागृती करण्यात येणार आहे. जिल्हा परिषदेच्या मुख्य कार्यकारी अधिकारी सौम्या शर्मा यांनी आज संबंधित शाळा,गटशिक्षण अधिकारी व अन्य प्रतिनिधिक संस्थांची बैठक घेऊन जी-20 परिषदेबाबत जनजागृतीसाठी विविध उपक्रम राबविण्याच्या सूचना […]

You May Like

Latest News

The Latest News

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com